आम आदमी–जय प्रकाश त्रिपाठी, नई दिल्ली

आम आदमी–जय प्रकाश त्रिपाठी, नई दिल्ली छप्पर-छप्पर लगे सुलगने, आगबबूला दोपहरी। लपटी-कपटी राजपाट के मौसम-सी अंधी-बहरी। भोरहरे तक चिरई-चुनमुन चिर्रा-चिर्री, चीं-चीं-चीं… याकि चुनाव चिन-चिन चटके गुर्रा-गुर्री, हीं-हीं-हीं… सांसें लगीं खींचने…

धूप बड़ी तेज है–Jai Prakash Tripathy, New Delhi

धूप बड़ी तेज है–Jai Prakash Tripathy, New Delhi सूरज के सिरहाने बैठा अंगरेज है, धूप बड़ी तेज है, धूप बड़ी तेज है। चालू-पुरजे, हरफन मौले चारो तरफ, हौले-हौले मौसम खौले…

*तुम्हारा स्वागत है माँ तुम आओ*–Kalpana Khajuria, Jammu

*तुम्हारा स्वागत है माँ तुम आओ*–Kalpana Khajuria, Jammu सिंह की सवार बनकर रंगों की फुहार बनकर पुष्पों की बहार बनकर सुहागन का श्रंगार बनकर *तुम्हारा स्वागत है माँ तुम आओ*…

नवरात्रे–नन्दनी बर्थवाल, नई दिल्ली

नवरात्रे–नन्दनी बर्थवाल, नई दिल्ली भारत की धरती पर तरह तरह के त्योहार मनाए जाते हैं और इन सभी त्योहारों का एक महत्त्व होता है। यह त्योहार पुरे हर्षोल्लास और श्रद्धा…

ऊँचाइयों से प्यार है मुझे ..Vijaya Pant Tuli, Uttarkashi Uttrakhand

ऊँचाइयों से प्यार है मुझे ..Vijaya Pant Tuli, Uttarkashi Uttrakhand ******************************.. एवरेस्ट पर फतह पाने वाली पहली भारतीय महिला बछेंद्री पाल की सबसे करीबी माउटेनियर विजया पंत तुली की उपलब्धियों…

मैली-मैली हंसी–J P Tripathy, New Delhi

मैली-मैली हंसी–J P Tripathy, New Delhi मैली-मैली हंसी, कसैली चेहरे पर अंगड़ाई, देखो, कैसे पटक-पटक कर मार रही महंगाई, छप्पन सिंह के छप्पन गाड़ी, सात मंजिला कोठी, रुपई महतो की…